Britannia company history in hindi ब्रिटानिया की सफलता 2020

Britannia company history in hindi ब्रिटानिया की सफलता 2020

कहते है कि, छोटे पैमाने से शुरू किया हुआ बिज़नेस बड़ी सफलता प्राप्त कर नही कर सकता. यह बात को गलत साबित कर दिखाया है, ब्रिटानिया कंपनी ने. Britannia company

ब्रिटानिया कंपनी Britannia Industries की शुरुआत भारत की आजादी से पहले कोलकाता में हुई थी. यह भारत की सबसे पुरानी और भरोसेमंद बिस्किट उत्पादन कंपनी है. जिसका मुख्य कार्यालय कोलकाता में स्थित है.

तो आइए जानते है, अपने इस लेख में ब्रिटानिया कंपनी के शुरुआत से लेकर उसके सफलता की कहानी.

ब्रिटानिया सफलता की कहानी - Britannia company success story

ब्रितानिया कंपनी Britannia company एक छोटे मकान से शुरू की हुई बिस्किट उत्पादक कंपनी है. ब्रिटानिया Britannia आज भारत मे ही नही बल्कि पूरी दुनिया मे अपने बिस्किट और डेरी प्रोडक्ट के लिए जानी जाती है. ब्रिटानिया की शुरुआत भारत की आजादी से पहले साल 1892 में हुई थी.

आपको जान कर हैरानी होगी कि, साल 1892 में शुरू हुई ब्रिटानिया कंपनी को मात्र 265 रुपयों की लागत से खड़ा किया गया था. हालांकि, उस समय मे यह लागत बहुत बड़ी मानी जाती थी. ब्रिटानिया Britannia को कोलकाता के एक छोटे से मकान से शुरू किया गया था.

ब्रिटानिया कंपनी Britannia company की शुरुआत तो एक ब्रिटिश आदमी ने की थी परंतु उनका नाम आज किसी की पता नही है. जब भारत मे स्वत्रंता संग्राम की शुरुआत हुई तो कंपनी के मालिक ने ब्रिटानिया Britannia को एक हिंदुस्तानी को बेचना सही लगा.

Also read: Raymond Success story in hindi

उस ब्रिटिश आदमी से ब्रिटानिया को गुप्ता ब्रदर्स एंटरप्राइज ने खरीद लिया. ब्रिटानिया कंपनी में मुख्य साझेदारी नलीलचंद्र गुप्ता और वी.के. ब्रदर्स की थी. बाद ने उन्होंने ही ब्रिटानिया की कमान संभाली और उसे सफलता की ऊंचाइयों पर पहुँचाया.

अभी तक ब्रिटानिया सिर्फ भारत मे ही प्रसिद्ध था. इसीलिये साल 1918 में ब्रिटानिया कंपनी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफलता दिलाने के लिये गुप्ता ब्रदर्स से कोलकाता के ही ब्रिटिश बिजनेसमैन सी.एच. होल्म्स को अपना पार्टनर बनाया.

सी.एच. होल्म्स और गुप्त ब्रदर्स ने ब्रिटानिया कंपनी Britannia company का नाम बदलकर 'धी ब्रिटानिया बिस्किट कंपनी लिमिटेड' Britannia biscuit company ltd रखा. वर्ल्डवॉर 2 के दौरान ब्रिटानिया को उनके इतिहास का सबसे बड़ा ऑर्डर मिला था. जिससे ब्रिटानिया रातो-रात अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध हो गई थी.

उसके बाद ब्रिटानिया ने भारत मे ही और कई कारखानों की शुरुआत की. ब्रिटानिया ने साल 1924 में मुंबई में अपने नए कारखाने की शुरुआत की. तब उन्होंने ब्रिटानिया कंपनी का नाम 'धी ब्रिटानिया बिस्किट कंपनी लिमिटेड' Britannia biscuit company ltd से बदलकर 'ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड' britannia industries ltd कर दिया.

ब्रिटानिया कंपनी का स्लोगन 'Eat Healthy, Think Batter' जो उस वक्त काफी मशहूर हुआ था. आज के समय मे ब्रिटानिया भारत की 100 भरोसेमंद कंपनियो में से एक है. जो अपने आप मे बहुत बड़ी बात है. 265 रुपयों से शुरू की गई यह कंपनी का आज के समय मे सालाना टर्नओवर 3000 करोड़ से भी ज्यादा है.

ब्रिटानिया अब बिस्किट के साथ-साथ बेकरी प्रोडक्ट्स और डेरी प्रोडक्ट्स भी बनाती है. ब्रिटानिया की 90% कमाई सिर्फ बिस्किट से ही होती है. टाइगर बिस्किट, गुड-डे बिस्किट, केक और रस्क भी ब्रिटानिया की ही देन है. आज के समय मे ब्रिटानिया पार्ले-जी और नेस्ले जैसी कई बड़ी-बड़ी कंपनियों को मत दे रही है.