कजाखस्तान का ऐतिहासिक गाँव - कलांची गाँव Sleepy Hollow Village Kazakhstan

कजाखस्तान का ऐतिहासिक गाँवदोस्तों अपने रामायण में कुंभकरण के बारे में तो सुना ही होगा कि वह कितने महीनों तक सोया हुआ रहता था. मगर क्या आपने कलयुग में ऐसा देखा है. जी हां, दोस्तों आपको बताने जा रहे हैं...एक ऐसे ही गाँव के बारे में, जहां लोगों कई दिनों तक सोए हुए रहते हैं. जी हां यह सच है. कजाखस्तान के कलाची गांव मैं लोगों को ऐसी बीमारी होती है.

जहां लोग कई दिनों तक सोए हुए रहते हैं...और फिर जब उठते हैं तब उन्हें पता ही नहीं चलता की उनके साथ क्या हुआ, वे क्या कर रहे थे और कब सो गए. वह भी उन्हें नहीं पता होता अरे जहां पर काम कर रहे होते हैं कहीं पर जाते हैं और वही के वहीं लुढ़क जाते है.

कई लोग तो रास्ते पर सो जाते हैं. इसलिए इस गांव को Sleepy Hollow भी कहते हैं. इस बीमारी का पहला किस्सा साल 2010 में  अचानक स्कूल में अध्यापक और बच्चे सो गए और कई दिनों तक सोते रहे और उठने के बाद उन्हें पता ही नहीं चला कि वे कब और कैसे सो गए.

इस गांव में करीब 600 लोग रहते हैं उनमें से 14% लोग इस बीमारी का  शिकार हुए हैं. साइंस ने कई परीक्षण किए मगर कुछ हाथ नहीं लगा फिर उन्हें इस गांव में यूरेनियम की खान पर शक हुआ मगर  फिर भी कुछ हाथ नहीं लगा सरकार ने लोगों को गांव से शिफ्ट होने की परमिशन दे दी है.

Read also

टिप्पणी पोस्ट करें