छोड़कर सामग्री पर जाएँ

मानव अधिकार दिवस 2022 | Human Rights Day in Hindi

Manav Adhikar Divas

Manav Adhikar Divas

विश्व मानव अधिकार दिवस कब होता है? Vishva manav adhikar divas kab manaya jata hai | Human Rights Day

लोगो के अधिकारों की सुरक्षा एवं रक्षा के लिए हर साल १० दिसंबर को पूरे विश्व मे मानव अधिकार दिवस Manav Adhikar Divas को मनाया जाता है. manav adhikar divas kab manaya jata hai

आज भी ऐसे कई अधिकार है जिससे दुनिया के कई लोग नही जानते है. उसी अधिकार से परिचित करवाने के लिए हर साल इसी दिन मानव अधिकार दिवस समारोह का आयोजन किया जाता है.

हर साल अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस Human Rights Day को बहुत ही धूमधाम से पूरे विश्व मे आयोजित किया जाता है. इस वर्ष या समारोह की थीम को बदला गया है. इस साल ‘समानता – असमानताओं को कम करना, मानवाधिकारों को आगे बढ़ाना’ यह थीम को पसंद किया गया है.

संयुक्त राष्ट्र संघ ने साल १९५० मे पहली बार विश्व मानव अधिकार Vishva manav adhikar divas घोषणा पत्र को आधिकारिक तौर पर लागू किया था. परंतु पहली बार संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा इसे साल १९४७ मे जारी किया गया था.

इसी साल से हर साल अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस को बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है. मानव अधिकार दिवस Manav Adhikar Divas मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगो को उनके अधिकारो के प्रति जागरूक करना और भेदभाव को रोकना है.

संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा जारी किए गए घोषणा पत्र के अनुसार उसमे ३० अनुच्छेद का उल्लेख किया गया है. जिसमें उल्लिखित मानव अधिकारो को सामान्य तौर पर नागरिक-राजनीतिक और आर्थिक-सामाजिक-सांस्कृतिक श्रेणियों मे बाँटा गया है.

मानव अधिकार Human Rights का मुख्य उद्देश्य शांति और सुरक्षा स्थापित करना है. मानव अधिकारो का मुख्य सिद्धांत सार्वभौमिक और अविच्छेद्य, अन्योन्याश्रित और अविभाज्य, समान और गैर-भेदभावपूर्ण, और अधिकार और दायित्व दोनो है.

भारत में मानव अधिकार आयोग का मुख्य कार्यालय नई दिल्ली मे स्थित है. और १२ अक्टूबर, २०१८ को इसने अपनी स्थापना के २५ वर्ष पूरे किये. यह संविधान द्वारा दिये गए मानव अधिकारो जैसेकी जीवन का अधिकार, स्वतंत्रता का अधिकार और समानता का अधिकार आदि की रक्षा करता है और उनके प्रहरी के रूप मे कार्य करता है.

मानव अधिकारो मे नागरिक और राजनीतिक अधिकार दोनो शामिल है.

जैसेकि देखा जाये तो जीवन का अधिकार, स्वतंत्रता और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, और सामाजिक तथा सांस्कृतिक और आर्थिक अधिकार जिनमे संस्कृति मे भाग लेने का अधिकार, भोजन का अधिकार, और काम करने और शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार जैसे और भी अधिकार शामिल है.

Related Post: Vishv Adivasi Divas

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *