छोड़कर सामग्री पर जाएँ

संज्ञा Sangya kise kahate hain | Sangya in hindi | 5 Best types of Noun |

Sangya kise kahate hain ? 

sangya ki paribhasha (Sangya in hindi) Sangya kise kahate hain

Sangya in hindi

संज्ञा (Sangya) की प्राथमिक जानकारी sangya ki paribhasha (Sangya in hindi)

हिन्दी व्याकरण के सबसे महत्वपूर्ण अध्याय के रूप में संज्ञा को जाना जाता है. संज्ञा की भूमिका हिन्दी व्याकरण के लगभग सभी अध्याय में होती है. आसान शब्दो में समझे तो किसी भी वस्तु, भाव, प्रकार या व्यक्ति के नाम को संज्ञा कहते है. Sangya ki paribhasha उदाहर के तौर पर..

रमेश और महेश : व्यक्तियों के नाम
घर और बांग्ला :वस्तु का नाम
आगरा और मथुरा : स्थान का नाम
प्रेम और भलाई : भाव का नाम

महत्वपूर्ण रूप से संज्ञा एक विकारी शब्द है. संज्ञा को विशेष रूप से नाम भी कहा जाता है. संसार में ऐसी कोई भी वस्तु, स्थान, व्यक्ति एवं भाव नही होगा जिसका नाम नही होता. किसी भी वस्तु, स्थान और व्यक्ति को उच्चारित करने के लिए संज्ञा का इस्तेमाल होता है.

हम आपको आश्वाशन देते है की इस लेख को ध्यान से और अंत तक पढ़ने के बाद आप यह अच्छी तरह से समझ पाएंगे की संज्ञा क्या है. और संज्ञा किसे कहते है Sangya Kise Kahate Hain

संज्ञा किसे कहते है – Sangya Kise Kahate Hain

संज्ञा (Sangya) : किसी जाति, द्रव्य, गुण, भाव, व्यक्ति, स्थान और क्रिया आदि के नाम को संज्ञा कहते है. जैसे की पशु (जाति), सुन्दरता (गुण), व्यथा (भाव), मोहन (व्यक्ति), दिल्ली (स्थान), मारना (क्रिया). जिस संज्ञा शब्द से वस्तुओ की अवस्था, गुण-दोष, भाव या दशा, धर्म आदि का बोध हो उसे भाववाचक संज्ञा कहते है. संज्ञा के भी कई भेद होते है.

संज्ञा के भेद sangya ke bhed

संज्ञा के कुल पांच भेद होते है.

  1. जातिवाचक संज्ञा – Jativachak Sangya
  2. व्यक्तिवाचक संज्ञा – Vyaktivachak Sangya
  3. समूहवाचक संज्ञा – Samuhvachak Sangya
  4. द्रव्यवाचक संज्ञा – Dravyavachak Sangya
  5. भाववाचक संज्ञा – Bhavvachak Sangya

१. जातिवाचक संज्ञा – Commoun Noun

• किसी विशेष वस्तु, विशेष व्यक्ति और विशेष स्थान की जाती को दर्शाने वाले शब्द को जातीवाचक संज्ञा कहते है.

• आसान शब्दो में कहे तो कवि, डॉक्टर, नदी, पर्वत, कुत्ता और महाद्वीप आदि विशेष स्थान, व्यक्ति और वस्तु आदि को दर्शाने के लिए जातिवाचक संज्ञा का इस्तेमाल होता है.

• जैसे की, छगन, मगन एवं सामु ये सब अलग अलग आदमियों के नाम है पर वह सभी जातिवाचक संज्ञा में आते है.

जातिबाचक संज्ञा के उदाहरण :

• कुत्ता बिल्ली का शिकार करता है.
• चींटी छोटा जीव है.
• हाथी सबसे बड़ा स्तनधारी जीव है.
• सैनिक सरहद पर जा रहा है.

२. व्यक्तिवाचक संज्ञा – Proper Noun

• किसी व्यक्ति विशेष, स्थान विशेष और किसी वस्तु विशेष के नाम के घोतक शब्द को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते है.

• आसान शब्दो में कहे तो अहमदाबाद एक जगह का नाम है. पर यह नाम हर किसी नही होता.

• अगर कोई जातिवाचक संज्ञा शब्द किसी वाक्य में विशेष व्यक्ति को प्रकट करने लगे तो वहाँ उसमें व्यक्तिवाचक संज्ञा होगी, न की जातिवाचक संज्ञा.

व्यक्तिवचक संज्ञा के उदाहरण :

• गांधी – गांधीजी भारत के राष्ट्रपिता है.
• शास्त्री – शास्त्रीजि भारत के प्रधानमंत्री थे.
• पंडितजी – पंडितजी भारत के पहले प्रधानमंत्री थे.

• अहमदाबाद (यह केवल एक विशेष शहर को संदर्भित करता है)
• सुरेश (सुरेश एक विशेष व्यक्ति को संदर्भित करता है)
• भारत (भारत नाम का कोई अन्य देश नहीं है. यह नाम केवल एक देश के लिए निर्धारित है)

३. समूहवाचक संज्ञा – Collective Noun

• किसी विशेष संख्या को दर्शाने वाले संज्ञा को समूहवाचक संज्ञा कहते है.

• समूहवाचक संज्ञा के उदाहरण सेना, झुंड और झुंड शब्द है.

• सेना, झुंड और झुंड यह सब एकवचन वाली संज्ञा है पर बहुवचन वाली संज्ञा भी होती है.

समूहवाचक संज्ञा के उदाहरण

• आज हमने गायों का झुंड देखा.
• बिल्ली के बच्चे का झुंड में चलते है.
• शेरों का झुंड, मछली का एक स्कूल, लकड़बग्घे का एक झुंड होता है.

४. द्रव्यवाचक संज्ञा – Material Noun

• जिन संज्ञाओं के उच्चारण से ठोस, तरल, पदार्थ, धातु, अधातु, आदि वस्तुओ का बोध हो, वह सभी वस्तुओ को द्रव्यवाचक संज्ञा से संबोधित करते है.

• लोहा, चांदी, सोना, तेल, घी, पानी आदि द्रव्यवाचक संज्ञा के उदाहरण है.

५. भाववाचक संज्ञा – Abstract Noun

• जिन संज्ञाओं के उच्चारण से पदार्थों या व्यक्तियों के धर्म, गुण, दोष, आकार, अवस्था, व्यापार या चेष्टा आदि के भाव का बोध हो वह भाववाचक संज्ञा से संबोधित होती है.

• भाववाचक संज्ञा का सिर्फ अनुभव ही हो सकता है, यह अस्पर्शी होती है.

• क्रोध, घृणा, प्रेम, अच्छाई, बुराई, बीमारी, लम्बाई, बुढ़ापा, आदि भाववाचक संज्ञा के उदाहरण है.

 

Ishan Kishan Biography In Hindi : Click Here

Bharat Ki Sabse Lambi Nadi Konsi He? : Click Here

Mukesh Mills Mumbai Haunted Story In Hindi : Click Here

BharatvarshGyan website All Posts: Click Here

More

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *