Earthquake in hindi | भूकंप: परिभाषा, कारण और प्रकार | what is earthquake

earthquake in hindi
earthquake in hindi

एक ऐसी कुदरती आपदा जिसे रोकना किसी के हाथ में नही होता उसे भूकंप(Earthquake) कहते है. कुछ दिनों से भूकंप की घटनाएं कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है. आपने सुना होगा की हाल ही में नेपाल और पाकिस्तान में कितना भयानक भूकंप आया. जिसमे नजाने कितने ही करोड़ो के जान माल का नुकसान हुआ.

भूकंप एक ऐसी प्राकृतिक आपदा है, जो बिना कहे किसी भी जगह आ जाती है और अपने साथ तबाही का भयानक मंजर लाती है. जन धन की हानि के साथ सबकुछ तबाह कर देती है.
आज हम आपको अपने यह लेख में Earthquake Type Cause Facts Information in hindi, भूकंप से कैसे बचे तथा भूकंप की परिभाषा, कारण, प्रकार और भारत के भूकंपीय क्षेत्र के बारे में बताने वाले है.

भूकंप की परिभाषा – earthquake information in hindi

पृथ्वी की सतह के हिलने को भूकंप या भूचाल कहते है. यह पृथ्वी की प्लेटो में अचानक ऊर्जा मुक्त होने के कारण उत्पन्न होने वाली भूकंपीय तरंगों के कारण होता है. आसान शब्दो में समझे तो भूकंप यानी पृथ्वी की सतह का हिलना है, जो अचानक ऊर्जा के निकास से होता है जो भूकंपीय तरंगों की वजह से होता है.

Advertisements

आपके मन में भी यह सवाल आता होगा की, आखिर भूकंप का कारण क्या है. तो आपको बता दे, भूकंप उत्पन होने का मुख्य कारण तरंग होता है. जमीन के नीचे भाग की पलेटो में तरंग उत्पन्न होना, जिसका असर हमे जमीन की उपली सतह तक दिखाई देता है. जब यह तरंगों का वेग ज्यादा होता है, तो उसे भूकंप या भूचाल कहते है.

भूकंप की तरंग के प्रकार – Waves of earthquake in hindi

भूकंप की तरंगों को उनकी तीव्रता के आधार पर तीन प्रकारों में बांटा गया है.

  1. प्राथमिक तरंग
  2. माध्यमिक तरंग (Secondary, S or Shear Waves)
  3. सतह तरंग (L or Surface Waves)

प्राथमिक तरंग – Primary or P waves

• प्राथमिक तरंग जिसे primary waves तथा P waves के नाम से भी जाना जाता है.
• भूकंप की सबसे शुरुआती तरंगों को प्राथमिक तरंग कहते है, जिसमे किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता.
• यह ऐसे कंपन होते है जिसका कंपन शून्य से तीन रिएक्टर होता है.

माध्यमिक तरंग – Secondary or Shear Waves

• माध्यमिक तरंग जिसे Secondary Waves तथा Shear Waves के नाम से भी जाना जाता है.
• माध्यमिक तरंग यह दूसरा पड़ाव होता है, जिसमें व्यक्ति अगर होशियारी से काम ले तो माध्यमिक तरंग को संभला भी जा सकता है.
• यह ऐसे कंपन होते है जिसका कंपन चार से सात रिएक्टर होता है.

Advertisements

सतह तरंग – L or Surface Waves

• सतह तरंग जिसे L Waves तथा Surface Waves के नाम से भी जाना जाता है.
• यह भूकंप की सबसे भयानक और तबाही वाली तरंगे है, जो अपने साथ तबाही का मंजर लेकर आती है.
• यह ऐसे कंपन होते है जिसका कंपन सात से ज्यादा आठ बारह रिएक्टर होता है.

भूकंपीय तरंगों के तीन प्रकार कौन कौन से हैं?

प्राथमिक तरंग
माध्यमिक तरंग
सतह तरंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ankara escortaydın escortSakarya escortizmir escortankara escortetimesgut escortkayseri escortistanbul escortçankaya escortkızılay escortdemetevler escort
bebek alışverişhayır lokmasıeskişehir pelet kazanıbatman evden eve nakliyat